सम्मेलन / संगोष्ठियां / कार्यशालाएं

आईआईसीडी में लगभग 400 छात्रों का एक उत्साही और जीवंत समुदाय है, जो नियमित रूप से कार्यशालाओं और संगोष्ठियों में भाग लेने के लिए उत्सुक हैं। अक्सर, इन समारोहों के दौरान, छात्र अपनी कला प्रदर्शन के लिए कला चित्र, दीवार पर बनने वाले भित्ति चित्र और अन्य कलाकृतियां बनाने की पहल करते हैं।


  1. जनवरी 2020 में ‘चिकनकारी’ पर कार्यशाला, कल्हाथ संस्थान, लखनऊ में
  2.  कोटा हेरिटेज सोसाइटी, कोटा आर्ट गैलरी, 2020 द्वारा आयोजित कला प्रदर्शनी (प्रतिभागी)
  3. शिल्प और डिज़ाइन में हालिया रुझानों और सतत्ता पर दूसरा अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन, आईआईसीडी, जयपुर, 7-8 नवंबर 2019
  4. आईआईसीडी में शिल्प शाला, 24-28 जून 2019
  5. द इंडिया स्टोरी, कोलकाता, 2018 में कला प्रदर्शनी, (प्रतिभागी)
  6. राजस्थान ब्लू पॉटरी पर कार्यशाला, 24 नवंबर, 2018
  7. राजस्थान विरासत सप्ताह, जयपुरः 23-26 अक्टूबर, 2018 (प्रतिभागी)
  8. चैथा विश्व लिविंग हेरिटेज फेस्टिवल, उदयपुर, 17-20 अक्टूबर, 2018, (प्रतिभागी)
  9. लोक और जनजातीय कला परंपराएं, उनके पुनरुद्धार और निर्वाह पर राष्ट्रीय संगोष्ठी, जयपुरः सह-आयोजक-राजस्थान ललित कला अकादमी, 29-31 अगस्त 2018
  10. शिल्प और डिज़ाइन में हाल के रुझानों और सतत्ता पर पहला अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन, आईआईसीडी, जयपुर, नवंबर 2017
  11. पाबूजी-री-फ़ाडः श्री मदन लाल भोपा और उनकी टीम
  12. शिल्प संगोष्ठी, 2016
  13. अंतर्राष्ट्रीय शिल्प विनिमय कार्यक्रमः ब्रिक्स संगठन
  14. वस्त्र, 2015 (प्रतिभागी)
  15. द इंडिया स्टोरी, कोलकाता, 2015, (प्रतिभागी)
  16. एमएसएमई, जयपुर द्वारा राष्ट्रीय डिज़ाइन संगोष्ठी
  17. “एक शिल्प आधारित व्यवसाय मॉडल का प्रोटोटाइप/पायलटिंग“ पर कार्यशाला
  18. “कठपुतली निर्माण“ पर कार्यशाला
  19. “बांस शिल्प“ पर कार्यशाला
  20. फोओआरएचईएक्स (FORHEX ) 2015 में “पटवा आभूषण“ पर कार्यशाला, (प्रतिभागी)
  21. स्टोन मार्ट, 2015 (प्रतिभागी)
  22. स्टार्ट-अप बूट-शिविर, 2015
  23. “संगमरमर जड़ाई“ पर कार्यशाला
  24. “सुल्ताना शिल्प“ पर कार्यशाला
  25. “पट्टू बुनाई“ पर कार्यशाला
  26. “प्राकृतिक डाई और छपाई तकनीक“ पर कार्यशाला
  27. टेक्सटाईल में अफगानिस्तान के कारीगरों को प्रशिक्षण। विभिन्न टेक्सटाइल शिल्प, विशेष रूप से कढ़ाई में कारीगरों को प्रशिक्षित करने के लिए आईआईसीडी में एक सप्ताह का प्रशिक्षण आयोजित किया गया था।
  28. मोज़ेक में अफगानिस्तान के कारीगरों को प्रशिक्षण। पत्थर पर पच्चीकारी के विभिन्न तरीकों को सिखाने के लिए आईआईसीडी और इन्डस्ट्री में एक सप्ताह का एक्सपोश़्ार प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया था।
  29. नाबार्ड प्रशिक्षण कार्यक्रम। राजस्थान के विभिन्न शिल्पों में स्मृति चिन्ह डिज़ाइन करने के लिए कारीगरों को प्रशिक्षित करने के लिए दो लघु प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए गए थे।.
Pay Fee