लर्निंग मॉडल

आईआईसीडी में लर्निंग मॉडल शिल्प क्षेत्र में चेंज एजेंटों और अग्रणियों का निर्माण करना चाहता है। एक छात्र को विभिन्न प्रकार के शिक्षण तरीकों से अवगत कराया जाता है, चाहे वह व्याख्यान हांे, फील्ड वर्क हो, व्यावहारिक लैब सेशन हों, इंटर्नशिप हो और लाइव प्रोजेक्ट हों।

संकाय सदस्यों के पास उत्कृष्ट शैक्षिक योग्यता के साथ व्यावहारिक शिल्प डिज़ाइन अनुभव का एक अच्छा मिश्रण है। प्रतिष्ठित पेशेवर उद्यमी भी शिक्षण प्रक्रिया में भाग लेते हैं। प्रतिष्ठित शिक्षाविदों और विशेषज्ञों को अतिथि व्याख्यानों, कार्यशालाओं, ज्यूरी और पाठ्यक्रम विकास के लिए आईआईसीडी के साथ जोड़ा गया है। उनके इनपुट संस्थान के शिक्षा कार्यक्रमों के लिए एक बहु-विषयक दृष्टिकोण स्थापित करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसके अलावा, जयपुर और देश के अन्य हिस्सों के शिल्पकार संस्थान की स्थापना के समय से इससे जुड़े हुए हैं। आईआईसीडी की मास्टर आर्टिसंस/कुशल शिल्पकारों, क्राफ्ट क्लस्टर्स, क्राफ्ट एनजीओ, सरकारी एजेंसियों, विशेषज्ञों, इन्डस्ट्री प्लेअर/पेशेवर उद्यमियों जैसे शिल्प क्षेत्र में विभिन्न हितधारकों के साथ व्यापक संपर्क/लिंकेजेस् और भागीदारी है और छात्रों को एक शानदार शिक्षण अनुभव और एक्सपोज़र सुनिश्चित करने के लिए वे इस नेटवर्क का लाभ उठाते हैं।


Pay Fee